Tuesday, February 5, 2019

स्मैक क्या है? स्मैक कीमत, स्मैक विधि एवं पूरी जानकारी।

SHARE
स्मैक क्या है? स्मैक कीमत, स्मैक विधि एवं पूरी जानकारी। नमस्कार दोस्तों, मैं हु आप का दोस्त और स्वागत करते है आप सभी का इस वेबसाइट पर। आपने Post का Title देख ही लिया होगा की आज हम "स्मैक क्या है? स्मैक कीमत, स्मैक विधि एवं पूरी जानकारी" के बारे में अच्छे से साफ़ शब्दो में बातें बताने वाले हैं। मैं गारण्टी के साथ लिखकर देता हु की जैसे इस पोस्ट में मै बताने वाला हु अर्थात मेरा बोलने का मतलब है की मै जो पोस्ट में आपके सामने बाते शेयर करूंगा वह आप किसी भी वेबसाइट पर जाकर देख ले आपको देखने को नहीं मिलेगी। यह तो आप भी जानते है की अगर आप इस topic के बारे में internet पर search कर रहे है तो जरूर आप इससे कुछ गुप्त जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। में यह भी जानता हु की आप पोस्ट पर comment नहीं करेंगे लेकिन चिंता की कोई बात नहीं अगर आपको मेरे से कोई भी X - Y - Z सवाल पूछना है तो हमको कमेंट बॉक्स में अपना WHATSAPP नंबर दाल दे तो हम आपसे बात जरूर करेंगे।

smack kya hai, smack price, smack kaise banate hai, smack ki kimat kitni hoti hai, smack banane ki vidhi, smack ki kheti kaise hoti hai
Copyrighted by Bhaskar website

 स्मैक क्या है ?
स्मैक क्या है। नमस्कार दोस्तों अगर आप इंटरनेट पर इसके बारे में SEARCH कर रहे है तो मेरे को बताने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि शायद 90% लोग इसके बारे में पहले से हि परिचित है। लेकिन जिनको इसके बारे में पता नहीं है आज हम उसको इसके बारे में अच्छे से बात बताने वाले है तो प्लीज् एपोस्ट को पूरा पढ़ना है और अधिक से अधिक शेयर करना है अपने वाहट्सएप्प और फेसबुक पर।

स्मैक एक नशीला पदार्थ है। इसका उपयोग वैसे तो कानून के आधार पर दवाइयां इत्यादि बनाने में किया जाता हैं, लेकिन बहुत सारे लोग इसका उपयोग नशे के लिए करते है। बहुत सारे लोग अपनी आजीविका चलाने के लिए इनका भारतीय बाजार में छुपकर व्यापार करते है और आज वह रोजाना लाखों रूपये भी छाप रहे है। लेकिन आप सभी भी इसके बारे में सोचना भी मत क्योंकि में यह पोस्ट आपको आपकी जानकारी के लिए बता रहा हु नहीं की धंधा करने के लिए। स्मैक एक ऐसा बहुत भयंकर नशीला पदार्थ है की सामान्य आदमी इसका उपयोग ही नहीं कर सकता है। इसको केवल इसकी लत वाला आदमी ही पी सकता है लेकिन उसको भी पीने  नींद जैसे आने लगती है। अब आप सोच सकते है की पीने वाले का यह हाल है तो नहीं पीने वाले का क्या हाल होगा। नहीं पीने वाले को पीला दे तो वह 1-2 दिन उठेगा ही नहीं। अगर इसकी अधिक मात्रा  जाये तो आदमी पागल या मृत्यु भी हो सकती है। इसके सेवन से आदमी का शरीर ख़तम होने लगता है एक महीने में आदमी की हड्डिया साफ़ दिखाई देने लगती है। मेरी बात में आपको 100 प्रतिशत सच्चाई मिलेंगी। इस प्रकार नशा करने वाले आदमी जीने में बहुत अधिक टाइम तक जीते है लेकिन उनकी कोई जिँदगी नाही होती है। इसका नशा करने वाले इसके बिना एक दिन भी नहीं निकल सकते है। अगर आप उनको ये स्मैक के लिए बोलकर इम्पॉसिबल काम के लिए भी हां करवा सकते है। विश्वास नहीं है तो एक बार जरूर तरय करके देखना।   

भारत सरकार के अनुसार इसका सामान्य लोगो द्वारा व्यापार करना कानून के विरुद्ध है। अक्सर इसका उपयोग सही भी है और गलत भी परन्तु कैसे? तो अगर भारत सरकार इसका उपयोग करती है जैसे इसका उपयोग दवाइयों में करते है तो वहा तक सही है परन्तु वह कंपनी जो दवाई के उपयोग में इसका उपयोग करती है उसको इसके लिए मान्यता प्राप्त होना चाइये। अगर कोई नागरिक इसका धंधा करता है या उसके पास यह पायी जाती हैं तो वह कानून का अपराधी माना जायेगा। 

स्मैक सीधे ही पेड़-पौधे पर नहीं आती हैं बल्कि इसके लिए हमको तैयार करना पड़ता हैं। स्मैक जैसे नशीले पदार्थ का भारत के जवान/युवा लोगो पर बहुत बुरा असर पद रहा है। भारत के युवा पीढ़ी नशे को एक Fasion के जैसे मानने लगी है और वह कम उम्र में ही नशे का शिकार हो जाते है जिससे उनकी साड़ी जिंदगी बिगड़ रही हैं। नशा भारत देश की उन्नति को विकसित होने से रोक रहा है। इसके लिए वैसे तो नशा मुक्ति अभियान चलाये जा रहे हैं।

आप सभी से एक छोटा सा सवाल क्या भारत सरकार सही कर रही है की एक साइड में खुद ही शराब, भांग, बीड़ी की दुकाने और ठेके चलवा रही है और एक साइड लोगो को नशा करने के लिए मना कर रही है यह बात कुछ पचि नहीं हैं कृपया कमेंट करके जवाब जरूर देवे।

smack kya hai, smack price, smack kaise banate hai, smack ki kimat kitni hoti hai, smack banane ki vidhi, smack ki kheti kaise hoti hai
copyrighted by pulseindiatv

 स्मैक की कीमत कितनी होती हैं?
स्मैक की कीमत की बात करे तो हर आदमी की अलग-अलग कीमत होती है क्योकि जब इसका अधिक मात्रा में मिलने का टाइम आता है तो पैसे कम कर देता है। जब यह सबसे काम पैसो में मिलती है उस समय मार्च-अप्रैल का होता है क्योकि इस समय इसका नया माल आ जाता है। इससे सभी के पास इसकी सबसे अधिक प्रचुरता पायी जाती है जिससे आदमी अपना माल पहले बैचने के चक्कर में काम पैसे में बेच देता है। पुलिस सबसे अधिक मार्च-अप्रैल में चेक पोस्ट में चेकिंग करती रहती हैं।  इसकी कीमत को बात करे तो 1700-1800 रूपये प्रति 1 ग्राम होता है। अगर इसके 100 ग्राम की बात करे तो 1,70,000-1,80,000 रूपये का हैं। यह कीमत में आपको 100% ओरिजनल माल मिलता है। जब इसको BLACK में बेचा जाता है तो लगभग 1 ग्राम अशली स्मैक में मिलावट करके 2 ग्राम स्मैक आराम से बना लेता है उसके बाद उसको भी 3200 रूपये की 1 ग्राम बेसझ देता है। अर्थात 50ग्राम ओरिजनल स्मैक को 50 ग्राम मिलावट करके 100 ग्राम कर लिया जाता है। सीजन के बाद समके को महंगा अर्थात 1900-2000 की 1 ग्राम कर हैं।
50 ग्राम असली स्मैक = 1800*50 = 90,000
50 ग्राम स्मैक+50 ग्राम मिक्सर = 100 ग्राम
यानी आपको 100 ग्राम स्मैक मिली = 90,000 
आपने बेच दी = 100*3200  = 3,20,000 
आपका मुनाफा हुआ =  3,20,000 - 90,000
= 2,30,000 रूपये बचे 100 ग्राम पर। 

 स्मैक बनाने की विधि क्या होती हैं?
स्मैक बनाने के लिए बहुत पापड़ बेलने पड़ते है। ओह्ह SORRRY दोसतो मजाक कर रहा था। सबसे पहले स्मैक डायरेक्ट नहीं बनता है। स्मैक बनाने की एक प्रक्रिया होती है। आपने सबसे पहले एक पौधा उगना होता है जिसको डोडा का पौधा या अम्ल का पौधा कहता है, इसके ऊपर एक गोल-गोल गेंद जैसा फल टाइप आकार का आता है इसको डोडा बोलता है। इनके बीच-बीच में धारधार वास्तु से चीरा लगाना पड़ता है इस गोल-गोल दौड़े मेजहा इसकी नशे दिखाई देती है। चीरा बहुत ही हलके से लगाया जाता है तो इसके कुछ देर बाद गोंड जैसा पानी निकलता हैं तो इसको एक जगह कटोरी में इक्कठा कर लेता है तो इसको तो अम्ल कहा जाता है। फिर इसको एक निश्चित प्रक्रिया द्वारा केमिकल डालकर इसको फाड़ा जाता है जैसे दूध पड़ते है। फिर इसको अपने सरीर का पूरा जोर लगा कर इसका पूरा पानी निकला जाता है। तो इसमें जो समान होता है उसको छाया में सुखाया जाता है। इसके सूखने के बाद आपकी स्मैक बनकर तैयार हो जाता है। 1 किलो अफीम या अम्ल में 100 ग्राम स्मैक बनाया हैं एकदम ओरिजनल। स्मैक को पाउडर भी बोलै जाता है। 

 स्मैक की खेती कैसे होती हैं?
स्मैक बोले या अम्ल या डोडा की खेती की जाती है। इसकी खेती उत्तरप्रदेश, झालावाड़, गुजरात, एवं मध्यप्रदेश के सारथल, अमरपुरा एवं इसके पास के गावो में की जाती हैं। इन लोगो की साइड में सरकार द्वारा ग्रामीण इलाको के स्थानीय लोगो को लाइसेंस दिया जाता है। इनके खेतो में पैदा होने वाली अम्ल  इसको लाइसेंस दिया जाता है। जिसके जितनी अफीम या अम्ल पैदा होगी उसको उसके अनुसार पैसा दिया जाता है। सर्कार इन लोगो को इसके बदले बहुत काम पैसा देती है जिससे लोगो को गलत तरीके से इनका धंधा करने पर मजबूर होना पड़ता हैं। 

 सरकार का आदेश होता है की अमल या अफीम के अलावा आपके पास जो भी बचा है उसको जला दिया जाना चाइये लेकिन यह लोग इसी का फायदा उठा कर इसको बेच दते है और पैसे कमा लेता है।  तो दोसत लगी न आपको मेरी खभर सबसे जबरदस्त अगर आपको पुरे इंटरनेट पर कही भी ऐसी खभर मिल जाये तो गुलाम रह जाऊ। कमेंट जरूर करना यारो गुरु। 

अगर आप ऐसे ही जबरदस्त और धासु पोस्ट पढ़ना चाहते है तो ब्लॉग को सब्सक्राइब करो ईमेल बोल में अपना ईमेल डालकर और साइड में आपको घंटी दिखाई देरही होगी तो उस पैर क्लिक करके नोटिफिकेशन को अल्लोव करे इसको आपको जब में पोस्ट अपलोड करुरंगा तो आपके पास मैसेज आ जायेंगे। 
यह जानकारी मेरे को पता नहीं थी लेकिन मेने ऑनलाइन सर्च करके यह जानकारी जुटाई हैं। 

Related Searches

SHARE

Author: verified_user

2 comments:

  1. ohh really post gajab lagi na jarur batao bhaio mene ye post logo ko aise kaamo se bachne ke liye bataya hai. agar aap iska galat use karte ho to aapke jimmedari hogi.

    ReplyDelete

thank you very much for commenting. Please share this article on you WhatsApp and Facebook. We will provide the best info next time.